219 +❤️ Best Ghamandi Shayari in Hindi | घमंडी शायरी हिंदी में

मिजाज में थोड़ी सख्ती जरूरी है साहेब !!
लग पी जाते अगर समुन्दर खारा ना होता !!
लतिया इतनी भी ना करो !!
की संभालने का मौका ही ना मिले !!

बदमाशी की बात मत कर साले !!
वो तो लडाई झगडे छोड रखे है !!
नही तो तेरे जैसे Bhai को !!
तो हम बिना कोई कसूर के पीट देते है !

औकात की बात मत कर पगली !!
हम जिस गली में पैर रखते है !!
वहा की लडकियां अक्सर कहती है !!
बहारो फूल बरसाओ मेरा महबूब आया है !!

जो गुरुर और रुतबा कल था !!
वो आज भी हे और आगे भी रहेगा,!!
मेरा Attitude कोई Calendar !!
नही जो हर साल बदल जायेगा !!

Ghamandi Shayari in Hindi

जो गुरुर और रुतबा कल था !!
वो आज भी हे और आगे भी रहेगा !!
मेरा Attitude कोई Calendar नही जो !!
हर साल बदल जायेगा !!

मेरी शराफत को तुम बुझदिली का नाम मत दो !!
क्यूंकि दबे ने जब तक घोड़ा !!
तब तक बन्दूक भी खिलौना ही होता है !!

किसी ने मुझसे पूछा जिंदगी क्या है !!
मैंने हथेली पर थोड़ी सी धूल ली और !!
फूँक मार_ कर उड़ा दी !!

जो किसी को छलते नहीं !!
वही लोग आज कल खोटें !!
सिक्के जैसे चलते नहीं !!

अपना भला कौन क्या बिगाड़ेेगा !!
अपनी तो किस्मत उसने लिखी है !!
जिसका कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता !!

रहने दे मुझे अँधेरे में ए ग़ालिब !!
उजालो में मुझे अपनों के !!
असली चेहरे नज़र आ जाते है !!

इसे पढ़े:- Couple Shayari in Hindi

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top