Bal Diwas Shayari In Hindi| बाल दिवस शायरी

Bal Diwas

बाल दिवस : पर छोटे बड़े निबंध: जैसा कि हम सभी जानते है, बच्चे देश के उज्ज्वल भविष्य हैं, बच्चों से ढेर सारे प्यार और लगाव के साथ अच्छे से बर्ताव करना चाहिये, जैसा कि हम सभी जानते है, प्रधानमंत्री के रुप में अपने व्यस्त जीवन के बावजूद भी पंडित नेहरु बच्चों से बेहद लगाव रखते थे, वो उनके साथ रहना और खेलना बहुत पसंद कर ते थे,अतः पंडित नेहरु को आदर और सम्मान देने के लिये हर वर्ष 14 नवंबर को पूरे भारत में बाल दिवस मनाया जाता है,

निष्कर्ष : बाल दिवस मानने के पीछे एक मुख्य कारण यह भी है, कि लोगों को बच्चों के अधिकारों तथा अच्छे पालन-पोषण के विषय में जागरुक भी किया जा सके, क्योंकि बच्चे ही देश के असली भविष्य हैं, इसलिये हर किसी को बच्चों के प्रति अपनी जिम्मेदारी को समझना चाहिये, जिससे की बाल दिवस का वास्तविक अर्थ सार्थक हो सके,बच्चों विशेष ध्यान रखने तथा उनके महत्व को देखते हुए विद्यालयों में बाल दिवस के अवसर पर,तरह-तरह के कार्यक्रम आयोजित किये जाते हैं, देश के प्रत्येक छोटे बड़े शहर में बाल दिवस मनाया जाता है,

शिक्षा वह सर्वशक्तिमान शस्त्र है
जिसकें दम पर दुनियां को बदला जा सकता हैं

bal diwas shayari

कुछ चीजें हैं जो पैसे नहीं खरीद सकते हैं
ऐसी ही चीज हमारा बचपन है

अपने बच्चों की इच्छाओं को सुनें उन्हें प्रोत्साहित करें
और फिर अपने निर्णय लेने के लिए उन्हें स्वायत्तता दें

हमें चिंता है कि एक बच्चा कल क्या होगा
लेकिन हम यह भूल जाते हैं कि वह आज भी कोई है

bal diwas shayari image

सूरज रोशनी ले कर आया और चिड़ियों ने गाना गाया
फूलों ने हंस-हंस कर बोला मुबारक हो तुम्हारा जन्म दिन आया

बच्चें किसी अहम काज में बाधा नहीं डालते
परन्तु वे स्वयं अहम कार्य होते हैं

bal diwas ki shayari

बच्चों के साथ वक्त बिताने से आत्मा प्रसन्नचित रहती है
तथा मन के सारे दुःख मिट जाते हैं

मेरे चारो और मनमोहक सुन्दरता है
क्योंकि मेरे हर ओर सुंदर बच्चें हैं

Bal Diwas Shayari In Hindi

कुछ चीजें हैं जो पैसे नहीं खरीद सकते हैं
ऐसी ही चीज हमारा बचपन है

Bal Diwas

ख़ुदा अबकी बार जो मेरी कहानी लिखना
बचपन में ही मर जाऊ ऐसी जिंदगानी लिखना

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top